Alone Shayari

Emotional Shayari

कश्ती के मुसाफिर ने समन्दर नहीं देखा,
आँखों को देखा पर दिल मे उतर कर नहीं देखा,
पत्थर समझते है मेरे चाहने वाले मुझे,
हम तो मोम है किसी ने छूकर नहीं देखा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button