Alone Shayari

  • Emotional Shayari

    कश्ती के मुसाफिर ने समन्दर नहीं देखा,
    आँखों को देखा पर दिल मे उतर कर नहीं देखा,
    पत्थर समझते है मेरे चाहने वाले मुझे,
    हम तो मोम है किसी ने छूकर नहीं देखा।

     

  • (no title)

Back to top button